Thursday , 18 April 2024
Uncategorized

Sakat Chauth Vrat Kath in Hindi: सक चौथ वतथा, यांढ़े सपू्ण्र कहान

Sakatauth Vrat Kath in Hindi2024सक चौथ वतथा इनिंी,कट चौ की कहानी): सक चौथ पर भगवान गणेश ज की पूा-र्चन करनेा विध है। इे हद पंचां में फ्गन म क कृष्णक्ष की चौथ तिथि को मनाया जाताै। इस्र को भारत के विभ्नागं म पामिकूप सेनायाात है। य व्रतहुत ह पवित माात है औरसे भक अनीच्छाूर्त के लिएरते हं।स व्रत की कथा अत्यंत महत्वपूर्ण हतीै। इसा पनरने स भक्तं क सभी मनोकामनाएं पूर होतीैं।

सकट चौथ की कथा के अनुसार, एक समयी ब है, एक गांवेंक ब्र्म थे जिनका अत्यंत न्रर धारिक्यवहारा। व अपने जीवन में बुत ह गरीबी के बीच जी रहे थे। एक ब वे गणेशी के दबारेंा रहेे, तोन्होने्र के संबंध में एक ब्राह्मण से सुा क सकट चथ वतत्यंत महत्वपूर्ण होताै और इका पालन करनेे सभीनोकामाए पूर्णोती हैं।्राह्मण ने व्रती कथा सुनाई और ब्राह्मण को यह बताया कि इस व्रतो पूरे विधिविध क साथ कनााहिए।

धीरेधीे वती तिथ आई और्र्म ने व्र की तैार की। उ्हंन गणेश जी की मूर्ति, लगो, नवेलर पूज सामग्री इकट्ठा की। व्रत के दिन ब्राह्मण ने गणेश जी की पूजा की औ अपन मनोकामना रखीि वे धनवानन जाए।

कटौथ केिननकी प्न गंगाी उसी्रत को मनाने के लिए तैयारी करही थीं। गंगा ने भी व्रत की पूजा क और धनी मां की। वते बाद दोों पति-प्नी न उपवास को तोड़ा और खाने की तैयारीी। तभ एक युवक आया और गंगा से गुड़ ले गया और उसे स ब चोरी के बारे में भ बात क।

ंग बहुतिंितुई और्र के नियोंो तोडकरपने पि क बाग में भेजने का फैसल किया। वह बाग म ग और बागेंोर को देखर भवानणेश जी की मूर्ति पर जाकरपनी मोकामना रखी किनका पि सुक्ष रहें और चोर पकड़ेाए।

ीर-धरे वत की तीख गुज गई और समय आया कि चोर को पकड़ा जाए।ोर कोंगा न पकड़िया और उसे पुलिसे पासे गई। चोर को पकडने के बाद गंगा ने भगवानणेश ज की पूा क और उनी आाधा क। इसेति-प्न की मनोामाएं पूर्ण हुईं और वे धनवानन गए।इसी का क याद कतेुए सक चौथ क दिन भवानणेश ज की पूा-र्चना की जाती है और उसे अपनी मकनंांी जीैं। य व्रतिवितर अविवितहिलाओ द्वार कियाात है। इ व्रतो करन से भको की सभी मनोकामनंूर्ण होत हैं औ उन्ह सुख और समृद्धि्र्तोती ह।

स बेें्यतिषार आित गर कतेैं, “कटौथ व्रत का पालन करने से भक्त को सभींकटों से मुक्ति मिलत है और उनकी जवन में सफलतार सुखा सम्पर्णशीर्वाद मिलत है।” वत के दिनक्त गेशी के चीा,रती औ मंत्रं क जाप कतेैं और अपनी मनोकामनंांतेैं।

कट चौथ काालन करके लोग न त सिर्फपनी अ्छ सेहता ध्यान रखते हैं, बल्कि धन, सुख,मृद्ध और समतिे लिए भी इसे करते हैं। इसलिए आप भी इस व्रत कथाो पढ़र अनीनोकामनाएं पूर्णर सकते हैं।इस व्र का मह्वूर सदेशै कि हेंश्वर का आशीर्वाद औ सुख-ांि क लिए धरपाल करन चाह।कट चौ व्रतत्यं महत्वूर्ण है और इसे पूरी्र्ध और भकिे साथ मनाना चाहिए।

Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Oneplus को तूफान में उड़ाने आया Oppo Reno 8 Pro 5G का स्मार्टफोन जबरदस्त कैमरा क्वालिटी के साथ
Uncategorizedटेक

Oneplus को तूफान में उड़ाने आया Oppo Reno 8 Pro 5G का स्मार्टफोन जबरदस्त कैमरा क्वालिटी के साथ

भारतीय बाजार में मशहूर Smartphone निर्माण करने वाली कंपनी Oppo ने आधुनिक...

Uncategorized

CM Ladli Bahna Yojana:

CM Ladli Bahna Yojana: 11वीं किस्त से पहले मुख्यमंत्री मोहन यादव ने...

Trending StoryUncategorized

Jason Kelce: A Tearful Farewell to Football

Jason Kelce, the legendary Philadelphia Eagles center, announced his retirement from the...

Trending StoryUncategorized

Zerodha Founder Nithin Kamath Reveals He Suffered a Mild Stroke Six Weeks Ago

Zerodha, India’s largest stockbroker, faced a setback when its founder, Nithin Kamath,...