‘Happy Hormones’ – खुश रहने के लिए अपने ‘Happy Hormones’ को करें एक्टिव, ये है एक्टिव करने के उपाय

Happy Hormones

Happy Hormones इंसान दुख है या खुश है यह सब उसके हारमोंस पर डिपेंड करता है। यह हैप्पी हारमोंस के बढ़ने या घटना की वजह से होता है।

सेहतमंद रहने के लिए खुश रहना जरूरी है और खुश रहने के लिए इंसान को अपनी सेहत फिट रखना जरूरी है।

 

‘Happy Hormones’ खुशी चाहते हैं तो अपने हैप्पी हारमोंस का रखें ध्यान

 

‘Happy Hormones’ किस तरीके का माहौल चल रहा है ऐसे में हर कोई खुद को हैप्पी और हेल्दी रखना चाहता है। हर एक की जिंदगी तनाव से भरी है, ऐसे में वह अपनी जिंदगी में खुशी और शांति पाना चाहता है।

क्योंकि तनाव के कारण वह मानसिक और शारीरिक तौर पर बीमार होता रहता है। हैप्पी रहने के लिए आपके शरीर में हैप्पी हारमोंस का एक्टिव होना बहुत जरूरी है।

जिन लोगों के बॉडी में हैप्पी हारमोंस रिलीज नहीं होते हैं वह अक्सर उनके चेहरे पर उदासी छाई रहती है। हैप्पी हारमोंस डिसबैलेंस भी हो जाते हैं तो भी इंसान का मूड खराब ही रहता है। सेहतमंद रहने के लिए खुश होना जरूरी है और खुश रहने के लिए सेहतमंद होना बहुत जरूरी है।

आदमियों के मोड में जो बदलाव देखने को मिलता है वह सब इन हैप्पी हारमोंस की वजह से ही होता है। जिसका पूरा असर उनके शरीर पर भी पड़ता है। आज के इस आर्टिकल में हम आपको हैप्पी हारमोंस को एक्टिव करने के तरीके और इससे होने वाले लाभ के बारे में बताएंगे।

आप ही अगर हैप्पी हारमोंस के बारे में पूरी जानकारी देना चाहते हैं तो हमारा यह लेख आखिर तक ध्यान से जरूर पढ़ें।

 

हैप्पी हारमोंस  (Happy Hormones ) क्या होते हैं?

हैप्पी हारमोंस इंसानों को खुश रखना उन्हें अच्छा फील करने और उनके मन को शांति पहुंचने का काम करते हैं। यह वह हारमोंस होते हैं जो इंसान को खुश करते हैं। आपके शरीर में हैप्पी हारमोंस का होना और इसका रिलीज होना बहुत जरूरी है।

एक्टिव नहीं होते हैं तो आप दुख महसूस करते रहते हैं आपको कुछ भी अच्छा नहीं लगता है ,

टेंशन में रहते हैं। परंतु जब यह हैप्पी हारमोंस एक्टिव रहते हैं तो इंसान हमेशा खुश रहता है। हैप्पी हारमोंस चार प्रकार के हैं, डोपामाइन, सेरोटोनिन, एंडोर्फिन और ऑक्सीटोसिन को हैप्पी हारमोंस कहा जाता है।

 

ऑक्सीटोसिन

ऑक्सीटोसिन हार्मोन की वजह से ही आपको अपने परिवार से प्यार और लगाव होता है। इसके अतिरिक्त अपने लवर, दोस्त और चाहने वालों के साथ प्रेम भावना होती है। किसी के प्रति अपने जज्बातों को कैसे प्रेजेंट करना है,

यह सब ऑक्सीटॉसिन हार्मोन की वजह से ही होता है। ज्यादातर लोग इसे लव हार्मोन के नाम से भी जानते हैं।

 

एंडोर्फिन

यह हार्मोन हमारी बॉडी के लिए अति आवश्यक है। ब्रेन को हेल्दी और शांत रखने का काम इसी हार्मोन का है। अगर इंसान में यह हार्मोन एक्टिव नहीं होते हैं तो उनके चेहरे पर उदासी छाई रहती है। उनका मन अशांत रहता है,

उनका कहीं भी मन नहीं लगता और मन में अजीबो – गरीब ख्याल आते रहते हैं। इन हारमोंस को बढ़ाने के लिए आपको एक्सरसाइज करना पड़ेगा। इसके अतिरिक्त आप चॉकलेट का सेवन भी कर सकते हैं।

 

ये भी पढ़ें – Today Gold Price in India ( 18th august,2023 )

 

सेरोटोनिन

जिन लोगों में इस हार्मोन की कमी हो जाती है तो डाइजेशन सिस्टम उनका खराब हो जाता है। अगर आप का पाचन सिस्टम ठीक तरीके से काम नहीं कर रहा है तो उसके लिए सेरोटोनिन हार्मोन ही जिम्मेदार कहलाता है। शरीर में इस हार्मोन को एक्टिव करने के लिए घी नोट्स बादाम जैसी चीजों का सेवन करें।

 

डोपामाइन

आपने कभी ना कभी अपने आसपास के लोगों को अपने काम पूरा हो जाने पर बहुत ज्यादा खुशी मनाते हुए जरूर देखा होगा। यह सब डोपामाइन हार्मोन की वजह से ही होता है। इस प्रकार की खुशी के लिए आपको अपने शरीर में इस हार्मोन को एक्टिव रखना जरूरी है।

 

हैप्पी हारमोंस को एक्टिव रखने के लिए क्या करें

 

शरीर में हैप्पी हारमोंस को नियंत्रित करना आपके हाथ में ही होता है। आप बॉडी में अगर हैप्पी हारमोंस को एक्टिव करना चाहते हैं तो रोजाना एक्सरसाइज करें।

पूरी मात्रा में नींद ले। अपने चाहने वालों परिवार दोस्त और लवर के साथ जितना ज्यादा हो सके उतना समय बिताएं। क्योंकि ज्यादातर वह लोग ही डिप्रेशन और अकेलेपन का शिकार रहते हैं, जो सबसे दूरी बनाए रखते हैं।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *