Thursday , 18 April 2024
Editors PicksFeatured StoryFlash StoryMain StoryTrending Storyटेक

Electric vehicle : भविष्य में पेट्रोल-डीजल से कम दाम में मिलेंगे इलेक्ट्रिक व्हीकल, रिपोर्ट में पता चली यह डिटेल

Electric vehicle
Electric vehicle

Electric vehicle  साल 2027 के आते-आते पेट्रोल और डीजल से भी कम कीमत में इलेक्ट्रिक व्हीकल मिलने की खबर सामने आ रही है।

क्योंकि इलेक्ट्रिक व्हीकल सेगमेंट में तीन गुना हिस्सेदारी हमारे देश की बड़ी है। ग्राहकों में भी इन गाड़ियों को तवज्जो मिल रही है।

 

Electric vehicle 2027 में सस्ते मिलेंगे इलेक्ट्रिक व्हीकल

जिस तरह से दुनिया विकास की तरफ आगे बढ़ रही है। इसका असर हर क्षेत्र पर पढ़ रहा है, फिर चाहे वह टेक्नोलॉजी हो ऑटोमोबाइल सेगमेंट हो या फिर अन्य कोई फील्ड हो। हर चीज में बदलाव हो रहा है, जिसका असर भारत के साथ-साथ अन्य देशों के ऑटोमोबाइल बाजार पर भी पड़ा है।

केवल हमारा देश ही नहीं बल्कि दुनिया भर में जितने भी ऑटो बाजार या कार बाजार है, सब तेजी से बदलाव की तरफ बढ़ रहे हैं। लोगों में जिस तरह से इलेक्ट्रिक वाहनों का क्रेज देखने को मिल रहा है इसे देखकर यह अंदाजा लगाया जा रहा है कि हिंदुस्तान में 2027, यूरोप में 2024, अमेरिका में 2026 और चीन में 2025 तक इलेक्ट्रिक वाहन पेट्रोल और डीजल वाहनों के मुकाबले सस्ते मिलेंगे।

एक रिपोर्ट सामने आई है जो की इकोनॉमिक्स ऑफ एनर्जी इनोवेशन एंड सिस्टम ट्रांजिशन की एनालिसिस रिपोर्ट है। इसके बारे में रिपोर्ट में और क्या कुछ बताया गया है, आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे। आप भी अगर इलेक्ट्रिक व्हीकल के बारे में जाने के उत्सुक है तो हमारा यह लेख आखिर तक ध्यान से जरूर पढ़ें।

 

Electric vehicle रिपोर्ट में और क्या बताया गया है

कार बाजार में लोगों का ध्यान अब ज्यादातर इलेक्ट्रिक व्हीकल पर रहने लग गया है। मार्केट में इलेक्ट्रिक व्हीकल की डिमांड लगातार बढ़ती जा रही है। व्हीकल निर्माता कंपनियां भी अब नए-नए फीचर से ली और दमदान इंजन वाले गाड़ियों को लांच कर रहे हैं,

जो की इलेक्ट्रिक सेगमेंट में आते हैं। इकोनॉमिक्स ऑफ एनर्जी इनोवेशन एंड सिस्टम ट्रांजिशन एक ब्रिटेन की यूनिवर्सिटी आफ एक्सेटर का बहुत ही खास प्रोजेक्ट है।

रिपोर्ट के बारे में बताते हुए प्रोफेसर मेई मेई एइलीन लेम ने बताया कि भारत में 1 साल में इलेक्ट्रिकल व्हीकल की हिस्सेदारी पहले 0.4% थी जो कि अब तीन गुना बढ़ चुकी है। अब यह 1.5% हो गई है। इंडिया ने केवल इस 1 साल में ही कर दिखाया है जबकि अन्य देशों को ऐसा करने के लिए 3 साल से अधिक का समय लगा है।

बैटरी की लागत साल 2030 तक घटती जाएगी जिसका असर यह होगा कि यह पेट्रोल और डीजल गाड़ियों के मुकाबला सस्ते मिलेंगे।

 

ये भी पढ़ें – Karizma XMR को जल्द खरीद ले नहीं तो बढ़ जाएगी कीमत, बाद में इतनी होगी इसकी कीमत

Electric vehicle इलेक्ट्रिक व्हीकल में चीन है आगे

चीन इलेक्ट्रिक व्हीकल सेगमेंट में आगे चल रहा है। वह साल 2030 तक 90 फीसदी बिक्री को मुख्य लेकर चल रहा है। आज के समय में वहां पर बिक रही गाड़ियों में एक तिहाई गाड़ियां इलेक्ट्रिक व्हीकल ही है।

आने वाले समय में कार बाजार में होने वाले बड़े बदलाव

– तेल की डिमांड कम होगी, 2019 में क्रूड की ग्लोबल डिमांड हाई पर थी। अंदाजा लगाया जा रहा है कि 2030 आने तक 10 लाख बैरल की कमी दिख सकती है।

– कमर्शियल व्हीकल में भी होंगे बदलाव, इलेक्ट्रिक कारों की सेल्स में बढ़ोतरी होने के बाद बस, टू व्हीलर और अन्य बड़े वाहनों में भी इलेक्ट्रिक देखने को मिल सकता है।

– कार बाजार में काफी तरक्की देखने को मिलेगी। इलेक्ट्रिक व्हीकल की बिक्री 6 गुना तक बढ़ जाने की उम्मीद जताई जा रही है। इलेक्ट्रिक व्हीकल सेगमेंट में नए वाहनों की 66 से 86% तक की हिस्सेदारी रहने वाली है। बैटरी लागत भी काम हो जाएगी।

Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

iPhone को फुदकना भुला देगा OnePlus का तगड़ा 5G स्मार्टफोन जाने फीचर्स
टेक

iPhone को फुदकना भुला देगा OnePlus का तगड़ा 5G स्मार्टफोन जाने फीचर्स

iPhone को फुदकना भुला देगा OnePlus का तगड़ा 5G स्मार्टफोन जाने फीचर्स...

iPhone का कचुम्बर बनाने आ गया Nokia Maze का 5G smartphone जबरदस्त कैमरा क्वालिटी के साथ
टेक

iPhone का कचुम्बर बनाने आ गया Nokia Maze का 5G smartphone जबरदस्त कैमरा क्वालिटी के साथ

Nokia smartphone कंपनी अपने जबरदस्त कैमरा फ़ोन के लिए अधिक पहचाना जा...