क्या आप जानते हैं स्टेप अप EMI (Step up EMI ) क्या है? जल्दी लोन चुकाने के लिए बेस्ट है ये फॉर्मूला

Step up EMI

स्टेप अप ईएमआई (Step up EMI ) तरीका अपना कर आप बहुत जल्द अपने गाड़ी, घर और पैसों पर लिए लोन से छुटकारा पा सकते हैं। इसके लिए बस करना होगा यह काम।

 

Step up EMI : लोन से तुरंत मुक्ति पाना चाहते हैं तो अपनाएंगे तरीका

हर किसी का यह सपना होता है कि उसके पास जरूर के हर वह चीज हो, जिसके ख्वाब उसने देखा रखें। जैसे कि उसके पास अपनी गाड़ी हो, अपना घर हो और उसके पास इतने पैसे हो कि वह अपने शौक आसानी से पूरे कर सके।

जिनके पास पैसा है वह तो अपने सपने जल्दी और आसान तरीके से पूरे कर लेते हैं। और जो middle-class परिवार है वह अपने शौक लोन के जरिए पूरा करते हैं। यह बात तो हम सब जानते हैं कि अगर एक बार लोन ले लिया तो उसे चुकाने के लिए लंबा समय वक्त लगता है।

लेकिन एक तरीका है जिसे अपना आकर आप बहुत जल्द अपना लोन खत्म कर सकते हैं। जब भी कोई व्यक्ति लोन लेता है तो उसकी स्टेप अप ईएमआई मैं इस बात का ध्यान रखकर ही तय किया जाता है कि जिस प्रकार से लोन लेने वाले की उम्र बढ़ रही है इस तरह उसकी कमाई भी बढ़ती रहे।

इसी को ध्यान में रखते हुए स्टेप अप EMI में शुरुआती सालों में लोन की EMI कम रहती है और फिर हर साल EMI बढ़ती रहती है। इसका मतलब यह है कि लोन लेने वाले आदमी की प्रोफेशनल ग्रोथ के साथ-साथ EMI भी बढ़ जाती है।

 

Step up EMI : इसके क्या फायदे होते हैं

स्टेप अप ईएमआई के कई प्रकार के फायदे लोगों को मिलते हैं इसमें आप समय से पहले ही लोन चुकाने में सफल रहते हैं। इसमें कोई व्यक्ति अपने मौजूदा समय में मिल रही सैलरी पर 25000 की ईएमआई पर लोन लेता है। जो इंटरेस्ट पर चल रहा है,

उसके हिसाब से उसने 60 लाख वापस करने हैं। जिसे चुकाने में उसे 20 साल का वक्त लग सकता है। लेकिन इसकी जगह अगर वह 5% के हिसाब से स्टेप अप ईएमआई विकल्प को सेलेक्ट करता है तो जो 60 लख रुपए उसने 20 साल में वापस करने हैं,

वही पैसे वह केवल 15 साल में वापस करने में सफल हो सकता है। अर्थात आप 5 साल पहले ही लोन से मुक्ति पा लेंगे। इसमें ध्यान रखने वाली बात यह है कि आपको इंटरेस्ट रेट पर नजर रखनी होगी क्योंकि अगर वह बड़ा तो आपकी ईएमआई भी बढ़ सकती है।

 

ये भी पढ़ें – Health tips : हेल्थी रहने के लिए रोज कितना कम चलें, ये रहा हर उम्र के व्यक्ति का वॉक प्लान

 

 

रिस्क से भरा हो सकता है स्टेप अप ईएमआई

Step up EMI में एक बहुत बड़ा रिस्क भी मौजूद है। वह यह है कि जिस स्पीड से इसमें आपके लोन की ईएमआई बढ़ती है हो सकता है, इतनी स्पीड से आपकी सैलरी ना बढ़े। ऐसी स्थिति में कुछ साल बाद EMI बढ़ने के बाद लोन लेने वाला व्यक्ति संकट में पड़ सकता है।

इसमें शुरुआत में जहां आपको एमी कम मिलती है तो वही जैसे-जैसे समय बढ़ता जाता है वैसे-वैसे नॉर्मल ईएमआई के मुकाबले बढ़ जाती है। ऐसे में अगर आप एमी समय पर नहीं भरते हैं तो आपके पेनल्टी भी पढ़ सकती है।

जब आप लोन लेने जाते हैं तभी यह तय हो जाता है कि लोन कितने समय के लिए और कितनी ईएमआई पर आधारित है, उसी के हिसाब से स्टेप अप ईएमआई भी तय की जाती है।

मगर इस बात का ध्यान रखें कि स्टेप अप ईएमआई लेने से पहले किसी प्रोफेशनल एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें।

इसको चुनने से पहले अपना बैकग्राउंड भी देख लें कि आगे चलकर इसमें परेशानी में पढ़ना पड़ेगा तो क्या आप उससे निजात पाने के लिए तैयार हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *