Thursday , 18 April 2024
एंटरटेनमेंट

इस बंदे ने अपने टेलेंट से Wheelchair में फिट कर दिया BIKE का इंजन यह देसी जुगाड़ देख हिल जाएगी दिमाग की एक-एक नस देखे

Bike engine fitted in wheelchair

इस बंदे ने अपने टेलेंट से Wheelchair में फिट कर दिया BIKE का इंजन यह देसी जुगाड़ देख हिल जाएगी दिमाग की एक-एक नस देखे। बाजार में कई तरह की इलेक्ट्रिक व्हीलचेयर मिलती हैं। लेकिन इन व्हीलचेयर की कीमत 1 लाख रुपये तक होती है। ऐसे में सबके लिए उन्हें खरीदना मुमकिन नहीं। इसलिए कुछ लोग जुगाड़ से ही सामान्य व्हीलचेयर को इलेक्ट्रिक बनाने का प्रयास करते हैं। सोशल मीडिया पर हमें एक ऐसा ही प्रयास मिला है। जी हां, एक शख्स ने देसी जुगाड़ के जरिए नॉर्मल व्हीलचेयर को ‘ऑटोमेटिक एडवांस व्हीलचेयर’ में तब्दील कर दिया।

यह भी पढ़ें:-बारिश ने किया सोचने पर मजबूर की स्वेटर पहने के लिए निकाले या छाता जानिए मौसम विभाग से अगले 24 घंटे का अपने शहरों का हाल

शख्स का यह कारनामा इंटरनेट पर खूब देखा जा रहा है। जहां लोग इसे मारक जुगाड़ बता रहे हैं, तो वहीं कुछ इेस बना दिया। इसके लिए उसने बाइक के इंजन का इस्तेमाल किया है। उसका जुगाड़ असरदार तो है लेकिन यह सहज नहीं है। क्योंकि इंजन को स्टार्ट करने के लिए किक मारनी जरूरी है। अगर इस जुगाड़ में थोड़े बदलाव किए जाएं तो यह एक कमाल की व्हीलचेयर बन सकती है।

कैसा लगा इस शख्स का देसी जुगाड़?

जुगाड़ का यह अद्भुत वीडियो इंस्टाग्राम पेज @explorevespa से पोस्ट किया गया था, जिसे अबतक 56 लाख व्यूज और 85 हजार लाइक्स मिल चुके हैं। इस वायरल क्लिप में देखा जा सकता है कि एक व्हीलचेयर से बाइक का इंजन जोड़ा गया है। यह इंजन व्हीलचेयर के पीछे लगा है। सबसे पहले शख्स किक मारकर इंजन को स्टार्ट करता है और फिर कुर्सी पर बैठ जाता है।

इसके बाद आगे लगे हैंडल को घुमाकर वह एक्सलेट करता है, जिससे व्हीलचेयर आगे बढ़ने लगती है। यह जुगाड़ देखकर लोग बंदे की तारीफ कर रहे हैं। वहीं कुछ लोग पूछ रहे हैं कि किस दिव्यांग के लिए इंजन को स्टार्ट करना चुनौतिपूर्ण होगा। वैसे इस पूरे मामले पर आपका क्या कहना है? कमेंट में बताइए।

यह भी पढ़े :- जमी है दांतो पर पिली परत की चर्बी तो नमक में इस चीज को मिलाकर लगाने से चंद मिनटों में हिरे जैसे चमकने लगेंगे आपके दांत जानिए

Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles