Tuesday , 23 April 2024
Editors PicksFeatured StoryFlash StoryMain StoryTrending Storyटेक

Bike and car Modification penality : Bike और car मॉडिफाई करवाने पर लगता है जुर्माना, यहां जाने कितना देना पड़ता है

Bike and car Modification penality

Bike and car Modification penality : कार या बाइक को मॉडिफाई करवाना सरकार गैर कानूनी किया हुआ है । कोई भी व्यक्ति गाड़ियों के पार्ट्स में संशोधन नहीं करवा सकता है। गाड़ियों के कुछ पार्ट्स जैसे कि चौड़े टायर, तेज होरन या काले शीशे लगवाना यानी के नियमों का उल्लंघन करना है।

ऐसा करने पर आपको तगड़ा जुर्माना और कैद भी हो सकती है।

 

Bike and car Modification penality  : बाइक और कार में संशोधन करवाना पड़ सकता है महंगा

अक्षर का सड़कों पर ऐसी गाड़ियां दौड़ती हुई नजर आती है इसके टायर काफी चौड़े होते हैं, होरन तेज होते हैं और उनमें शीशे भी बदले हुए होते हैं। मॉडिफिकेशन के नाम पर लोग गाड़ी में कई बदलाव करवा लेते हैं।

मोटरसाइकिल के ओरिजिनल साइलेंसर को हटाकर उसकी जगह हैवी साइलेंसर लगवाते हैं। परंतु गाड़ियों में ऐसे बदलाव करवाना भारत में गैर कानूनी है। लेकिन फिर भी लोग धड़ल्ले से कार और बाइक को मॉडिफाई करवाने में लगे हुए हैं।

कार या बाइक में मोडिफिकेशन करने वालों को तगड़े जुर्माना भी हो सकते हैं।

आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे की गाड़ियों में कौन से मोडिफिकेशन करवाने पर आपको कितना जुर्माना पड़ सकता है। इसके अतिरिक्त यह भी बताएंगे कि कुछ ऐसे नॉर्मल मोडिफिकेशन भी है जो आप आसानी से अपने गाड़ियों में करवा सकते हैं।

 

Bike and car Modification penality : गैर कानूनी है गाड़ियों में संशोधन करवाना

आज के समय में भी बहुत सारे ऐसे लोग हैं जिन्हें कानून द्वारा बनाए हुए नियम के बारे में जानकारी नहीं है। यही वजह है कि वह अपने कर और मोटरसाइकिल के कुछ पार्ट्स को मॉडिफाई करवा लेते हैं, परंतु बाद में उन्हें भारी भरकम जुर्माना भी झेलना पड़ता है।

अगर आपने भी अपने गाड़ी के कुछ पार्ट्स को मॉडिफाई करवाने के बारे में सोच रहे हैं तो इससे पहले कानून द्वारा बनाया गया 2019 नियम के बारे में जरूर जानकारी लें। उस कानून में कहा गया है कि वाहनों में कोई भी संशोधन नहीं किया जाना चाहिए।

यानी की जिस मॉडिफाई के आदेश नहीं है वह नहीं करवाने हैं। मोटर वाहन अधिनियम 1988 की धारा 55 में कहा गया है की गाड़ी के मालिक को ऐसा कोई भी संशोधन करवाने की इजाजत नहीं है जो कागजी रूप से गाड़ी के रूप को बदल दे। ऐसा करने पर उसे 5 हजार रुपए जुर्माना और 6 महीने की कैद हो सकती है।

 

ये भी पढ़ें – Renault की हो रही बल्ले बल्ले, धांसू लुक में लॉन्च की बेहतरीन ये तीन गाड़ियां

 

बस ये मॉडिफाई करवा सकते हैं

गाड़ियों में कुछ ऐसे बदलाव करने की मंजूरी मालिकों को दी गई है, जो गैरकानूनी नहीं है। पर यह बदलाव करवाने के लिए भी मालिक को आरटीओ से मंजूरी लेना जरूरी है। आप अगर ईंधन संचालन में परिवर्तन करना चाहता है तो इसके लिए आपको केंद्रीय नियमों के तहत छूट मिली छूट का पालन करना अनिवार्य है।

गाड़ियों में वह चीज मॉडिफाई हो सकती हैं जो गाड़ी के स्वरूप को ना बदले। जैसे के टायरों के आकार और निर्माता और इंजन स्वैपिंग के निर्धारित सीमा में वाहन के ऊपरी संस्करण व निचले पहिए को बदल सकते हैं, रेन विज़र्स, गाड़ी का रंग और डंपर कॉर्नर प्रोटेक्टर जैसी चीजों को मालिक बदल सकता है।

पर इन बदलावों के लिए भी उसे आरटीओ से मंजूरी लेनी होगी।

Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

कम बजट में पेश होगा Motorola Edge 40 Neo का किफायती स्मार्टफोन
टेक

कम बजट में पेश होगा Motorola Edge 40 Neo का किफायती स्मार्टफोन

भारतीय  बाजार में ये smartphone के stylish और तगड़े smartphone की तलाश...

Vivo Y200i के 5G स्मार्टफोन लॉन्च डेट आई सामने धांसू फीचर्स के साथ मिलेगी तगड़ी बैटरी
टेक

Vivo Y200i के 5G स्मार्टफोन लॉन्च डेट आई सामने धांसू फीचर्स के साथ मिलेगी तगड़ी बैटरी

Vivo Y200i के 5G Smartphone लॉन्च डेट आई सामने धांसू फीचर्स के...

Vivo को बाहर का रास्ता दिखाने आ गया Realme 10 Pro Plus का स्मार्टफोन जाने कीमत
टेक

Vivo को बाहर का रास्ता दिखाने आ गया Realme 10 Pro Plus का स्मार्टफोन जाने कीमत

Vivo को बाहर का रास्ता दिखाने आ गया Realme 10 Pro Plus...

7000mAh की तगड़ी बैटरी के साथ मार्केट में हुआ लांच Vivo T2x का 5G स्मार्टफोन
टेक

7000mAh की तगड़ी बैटरी के साथ मार्केट में हुआ लांच Vivo T2x का 5G स्मार्टफोन

Vivo T2x 5G smartphone  भारतीय बाजार में बहत ज्यादा लोगो को पसंद...